ब्‍लाग लेखन वर्कशाप श्रृंखला इन्‍दौर में

हिन्‍दी को तकनीक से जोडने की शुभेच्‍छा से और कम्‍प्‍यूटर को कलम की तरह औजार बना कर हिन्‍दी ब्‍लाग लेखन के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिए, श्री म.भा. हिन्‍दी साहित्‍य समिति, इन्‍दौर जल्‍दी ही एक वर्कशापों की श्रृंखला शुरु कर रही है । इन वर्कशापों के दो लक्ष्‍य होंगे । पहला - जनमानस में फैला यह भ्रम तोडने की कोशिश करना कि कम्‍प्‍यूटर पर केवल अंग्रेजी में ही काम किया जा सकता है और दूसरा - ब्‍लाग लेखन से अधिकाधिक लोगों को जोड कर सूचना प्रौद्योगिकी और तकनीक के जरिये, हिन्‍दी की क्रियाशीलता को बढावा देने की कोशिश करना ।



इन वर्कशापों के केन्‍द्र में मुख्‍यत: वे लोग होंगे जो न तो तकनीक के जानकार हैं और न ही अंग्रेजी के । गैर जानकारों को जानकार बनाने की कोशिश इन वर्कशापों में की जाएगी । पत्रकारों, साहित्‍यकारों और साहित्‍य प्रेमियों के लिए भी अलग-अलग वर्कशाप आयोजित की जाएंगी लेकिन इस बात का खास ध्‍यान रखा जाएगा कि ब्‍लाग लेखन और साहित्‍य लेखन को पर्याय न समझा जाए । ये सारी बातें मुझे, श्री म.भा;हिन्‍दी साहित्‍य समिति से जुडे श्री सुबोध खण्‍डेलवाल ने कल शाम मुझे फोन पर विस्‍तार से बताईं ।



श्री म.भा;हिन्‍दी साहित्‍य समिति, इन्‍दौर हिन्‍दी को समर्पित देश की अग्रणी संस्‍था है जिसका शुभारम्‍भ महात्‍मा गांधी ने किया था



हिन्‍दी के लिए समर्पित, ब्‍लाग विश्‍व के सुपरिचित और लोकप्रिय, 'सारथी' के स्‍वामी श्री शास्‍त्री जे. सी. फिलिप जल्‍दी ही ग्‍वालियर आने वाले हैं । सुबोध ने बताया कि शास्‍त्रीजी की उस यात्रा को किसी न किसी वर्कशाप से जोडने का प्रयास किया जाएगा । अच्‍छी खबर यह है कि शास्‍त्रीजी ने भी इन्‍दौर पहुंच कर वर्कशापों की किसी कडी में शामिल होने की भावना जताई है ।



मेरे अनुरोध पर सुबोध ने वादा किया है कि वर्कशाप की पहली तारीख तय होते ही वे मुझे सूचित करेंगे ताकि अधिकाधिक लोगों तक यह सूचना पहुंचाई जा सके ।



सोने में सुहागा वाली बात यह होगी कि श्री संजय पटेल भी इन वर्कशापों में 'जोग लिखी' लिखते हुए मिलेंगे ।


अगली सूचना सुबोध से खबर मिलने के बाद ।

7 comments:

  1. संजय बेंगाणीSeptember 20, 2007 at 9:32 AM

    रचनात्मक काम होगा. हमारी शुभकामनाएं.

    वर्कशॉप पर विस्तृत जानकारी की प्रतिक्षा रहेगी.

    ReplyDelete
  2. यह कदम बहुत ही प्रभावी सिद्ध होगा। अति उत्तम ! हमारी शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  3. हमारी शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छा प्रयास, वर्कशॉप की विस्तृत जानकारी अवश्य दें।

    ReplyDelete
  5. badiya kam kar rahe ho

    ReplyDelete
  6. ब्लॉग लेखन पर कार्यशाला का आयोजन अत्यंत उपयोगी प्रयास है नवेंबर में होती हैं तो अवश्य सम्मिलित हो उंगा . हार्दिक शुभकामनाएँ .

    भैरव फ़रक़या
    सेन रेमो न , कॅलिफॉर्निया , यू एस ए

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणी मुझे सुधारेगी और समृद्ध करेगी. अग्रिम धन्यवाद एवं आभार.